कोबरा गैंग का मुखिया Gangster इकबाल सिंह अफरीदी अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार

जालंधर; संसदीय चुनावों से पहले गैंगस्टरों और असामाजिक तत्वों के खिलाफ अपने अभियान को ओर तेज़ करते हुए काउंटर इंटेलीजेंस विंग ने ग्रामीण पुलिस जालंधर के साथ मिलकर कुख्यात कोबरा गैंग के मुखिया गैंगस्टर इकबाल सिंह अफरीदी को अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपित की पहचान इकबाल सिंह अफरीदी (32) पुत्र दिलशाद सिंह निवासी गांव फतेहाबाद, खंडूर साहिब, तरनतारन के रूप में हुई है।

इकबाल अफरीदी माझा क्षेत्र का एक कुख्यात गैंगस्टर है और वह फतेहाबाद कस्बे में एक महिला के कपड़े फाड़कर बेइज्जत करने, गोइंदवाल साहिब क्षेत्र में हुई गैंगवार, जिसमें चार लोग मारे गए थे और पिछले साल के दौरान दर्ज कई अन्य केसों में पुलिस को वांटेड था। पंजाब पुलिस की काउंटर इंटेलिजेंस विंग को अपने गुप्त सूचना मिली थी कि फरार गैंगस्टर इकबाल सिंह अफरीदी अपनी टोयोटा कोरोला कार में जालंधर इलाके में मौजूद है और वह यहां किसी घटना को अंजाम देने सकता है।

पुलिस थाना मकसूदां के अधिकारियों की संयुक्त टीम बनाकर गैंगस्टरों को गिरफ्तार करने के लिए रवाना किया। चेकिंग के दौरान टीम ने संदिग्ध कार को रोका और अवैध हथियारों के साथ गैंगस्टर को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार गैंगस्टर ने प्रारंभिक पूछताछ के दौरान खुलासा किया कि वह अपने आपराधिक जीवन के पिछले 15 वर्षों के दौरान 20 से अधिक मामलों में शामिल रहा था।

पढ़ाई छोड़ने के बाद बनाया गिरोह
हरकमलप्रीत सिंह खख ने कहा कि अफरीदी एक कॉलेज ड्रॉपआउट है और पढ़ाई छोड़ने के बाद उसने कोबरा गैंग नाम से अपना गिरोह बनाया, जोकि जबरन वसूली, हत्या और हत्या के प्रयास आदि के कई मामलों में शामिल रहा है। इससे पहले भी अफरीदी को विभिन्न थानों की पुलिस ने तीन बार गिरफ्तार कर जेल में भेजा था, पहली बार 2006 में, दूसरी बार 2012 में और तीसरी बार 2016 में। वर्ष 2007 में जब उसे कानूनी कार्यवाही के लिए तरनतारन कोर्ट ले जाया गया, तो उसने पुलिस हिरासत से भागने की असफल कोशिश की, लेकिन दूसरी बार फिर 2009 में वह हिरासत से भागने में सफल रहा था।

आगे कहा कि अफरीदी को आखिरी बार 2016 में मोहाली पुलिस ने गिरफ्तार किया था और जनवरी 2017 में जमानत पर बाहर आया था, लेकिन जेल से बाहर आने के बाद उसने अपनी आपराधिक गतिविधियों को नहीं रोका। उसे कुछ मामलों अदालत की ओर से भगौड़ा भी घोषित किया गया है। 2018 में 3 फरवरी को गैंगस्टर अफरीदी और उसके तीन सहयोगियों ने फतेहाबाद में झगड़े के दौरान महिला के साथ दुर्व्यवहार किया। पीड़‍ित के पति की शिकायत पर आरोपित के खिलाफ धारा 452, 323, 354-बी, 506 और 34 और असला एक्ट की धारा 25, 54 और 59 के तहत मामला दर्ज किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *