फैक्ट्री में विस्फोट से मजदूर की मौत पर बिफरे घरवाले, मालिक पर कार्रवाई के लिए लगाया जाम

दो दिन पहले लोहा ढलाई फैक्ट्री में काम करते समय भट्टी में विस्फोट हो गया था। इसमें मजदूर नंदलाल (35) मूल निवासी कुशीनगर (गोरखपुर, उप्र) झुलस गया था। उसे इलाज के लिए पीजीआई ले जाया गया था जहां शनिवार रात उसकी मौत हो गई। घरवालों का आरोप है कि वहां पुलिस ने उनसे पंजाबी भाषा में लिखे एक कागज पर हस्ताक्षर करवाए थे। बाद में पुलिस ने मामले में नंदलाल की मौत कुदरती तौर पर बताकर मामला रफा-दफा कर दिया था। लिखा गया कि हादसे में किसी का कसूर नहीं हैं।

जब इस बात का पता घरवालों को लगा तो वह दंग रह गए। उन्होंने इस मामले में फैक्ट्री मालिका को कसूरवार ठहराया और उचित कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। इस बीच पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन्हें समझाने की कोशिश की। बाद में पुलिस ने पीड़ित पक्ष के बयान दर्ज करके मामले में आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

जब इस बात का पता घरवालों को लगा तो वह दंग रह गए। उन्होंने इस मामले में फैक्ट्री मालिका को कसूरवार ठहराया और उचित कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। इस बीच पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उन्हें समझाने की कोशिश की। बाद में पुलिस ने पीड़ित पक्ष के बयान दर्ज करके मामले में आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *